बृजमोहन अग्रवाल ने कहा शहीद ऐ आज़म के सपनो के भारत का निर्माण करे |

Brijmohan Agrawal

प्रदेश के संस्कृति व् शिक्षा मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि  हम आज़ादी की जो जिंदगी गुजार रहे है उसके लिए भारत माँ के न जाने कितने सपूत हँसते-हँसते भारत माँ के जयकारे लगाते फांसी के फंदे पर झूल गए, और न जाने कितनों ने आज़ादी के इस संघर्ष में सब कुछ  समर्पित कर दिया | इन्ही संघर्षो और बलिदानों की बदौलत हम आज आज़ाद भारत में,खुली हवा में साँस ले रहे है | ऐसे में हम भारतवासिओं का नैतिक दायित्व है कि आज़ाद भारत को लेकर भारत माँ के उन वीर सपूतों ने जो सपना देखा था, हम सब मिलकर उन सपनों को साकार करे | श्री अग्रवाल एसआरपी चौक शंकर नगर में शहीदी दिवस पर सिक्ख सेवा संघ और नगर निगम द्वारा आयोजित श्रधांजलि सभा में शामिल हुए | उन्होंने शहीद भगत सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया साथ ही राजगुरु और सुखदेव को श्रधांजलि दी |  उसके बाद  वे कचहरी चौक तिराहा गए  और  शहीद हेमू कलानी की जयंती समारोह में भी शामिल हुए | इस दौरान उन्होंने शहीद हेमू कलानी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और सभा को संबोधित किया |  श्री अग्रवाल ने कहा की आज 18-20 की जिस उम्र में बच्चे खुद की जिम्मेदारी नहीं समझ पाते है ऐसे में यह कल्पना करे की उसी उम्र में हेमू कलानी,शहीद भगत सिंह,राजगुरु,सुखदेव जैसे नौजवान अपनी आँखों में देश को आज़ाद कराने का सपना संजोये सर पर कफ़न बाँध निकल पड़ते है और देश के लिए कुर्बान हो जाते है | उन्हें यह पता था की शक्तिशाली अंग्रेजो से वे मुकबला नहीं कर पायेंगे पर देश के भविष्य के लिए उनके मन में सपना था कि उनकी इस शहादत से प्रेरणा लेते हुए देश पर मर मिटने वाले यूवाओं की फ़ौज तैयार होगी और एक न एक दिन भारत माँ को गुलामी की बेड़ियों से मुक्ति मिलेगी  उन्होंने कहा कि आज हमें आज़ादी का महत्त्व समझना होगा | आज उन्हें  देश के लिए बलिदान होने की जरुरत नहीं है | देश हित थोड़ा त्याग करने और की जरुरत है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*