परीक्षा केंद्र 30 किमी दूर होने पर परीक्षार्थियों के लिए की जाएंगी हॉस्टल की व्यवस्था

Apna Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल के अध्यक्ष विकास शील ने सभी जिलों के कलेक्टरों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बोर्ड परीक्षा की तैयारियों का जायजा लिया। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सचिव सुधीर अग्रवाल, उपसचिव संजय शर्मा भी शामिल थे। अध्यक्ष विकास शील ने निर्देश दिया है कि जिन इलाकों में परीक्षा केंद्र 30 किमी से 70 किमी या इससे अधिक हैं, उन परीक्षार्थियों के लिए हॉस्टल की व्यवस्था कराई जाए। आपको बता दें कि 30 से 35 किमी दूर वाले पांच केंद्रों में कोरबा में एक, धमतरी एक, नारायपुर एक और सुकमा 02 हैं। 40 से 50 किमी दूर वाले तीन केंद्र हैं। इनमें बीजापुर में 2 और कोंडागांव में एक शामिल है। 60 से 70 किमी दूर वाले बीजापुर और कोंडागांव के केंद्रों में परीक्षार्थियों को हॉस्टल की सुविधा मिलेगी। प्रदेश में कुल 2158 केंद्रों में 83 संवेदनशील और 52 अति संवेदनशील केंद्र बनाए गए हैं। 14 जिलों में ही संवेदनशील इनमें रायपुर और दुर्ग संभाग में एक भी नहीं हैं। जांजगीर में सबसे अधिक 23, जशपुर 17, बस्तर 15, कांकेर13 और सबसे कम रायगढ़ में 02 केंद्र हैं। यहां आवश्यकता पड़ने पर वीडियोग्राफी कराने की व्यवस्था की जा रही है। कलेक्टरों के आग्रह पर जांजगीर के सात और दुर्ग में तीन केंद्राध्यक्ष बदलने के लिए निर्णय लिया गया है। इस बार 2158 केंद्र बनाए गए हैं। 9 जिलों में 14 नए केंद्रों की मांग आई थी। इन्हें उपकेंद्र बना दिया है। बच्चों के लिए पेयजल, बिजली, टॉयलेट, प्राथमिक उपचार की सुविधा देने के लिए निर्देश दिए गए हैं।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*